PM Kisan FPO Yojana: किसानों को सरकार दे रही है 15 लाख रुपये?

अगर आप किसान हैं और किसानी करते हैं तो मोदी सरकार के द्वारा Pm Kisan FPO Yojana की शुरुआत की गई है । आपके लिए किसान एफपीओ योजना काफी फायदेमंद हो सकता है ( किसान फपीओ )।

मोदी सरकार किसान और कृषि को आगे बढ़ाने के लिए अगले 5 साल में 5000 करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है । जिसके लिए मोदी सरकार ने हाल ही में किसान उत्पादक संगठन या फिर कह लीजिए PM Kisan FPO Yojana की शुरुआत की है ।

एफपीओ यानी कि किसान उत्पादक संगठन (FPO – Farmer Producer Organisation ) किसानों का एक ऐसा समूह होता है जो कंपनी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड होता है और कृषि उत्पादक कार्य को आगे बढ़ाता है । Pm Kisan FPO Yojana की शुरुआत माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा यूपी के चित्रकूट से कर दी गई है । सरकार अगले 5 साल में Pm Kisan FPO Yojana के ऊपर 5000 करोड़ रुपए खर्च करेगी ।

Pm Kisan FPO Yojana के तहत वही सारे फायदे दिए जाएंगे जो एक कंपनी को मिलते हैं लेकिन यह संगठन कॉपरेटिव पॉलिटिक्स से बिल्कुल अलग होंगे यानी इस कंपनी पर कॉपरेटिव एक्ट नहीं लागू होगा ।

क्या आप भी एक किसान हैं , क्या आपको भी Pm Kisan FPO Yojana का लाभ लेना है ?

अगर आप का भी जवाब “हां” हैं तो इस आर्टिकल को आगे पढ़ते जाएं ।

PM Kisan FPO Yojana 2021 Registration Form Apply Krishi FPO

इस पोस्ट में क्या है ?

क्या है किसान एफपीओ योजना ? | Pm Kisan FPO Yojana क्या है ?

एफपीओ यानी कि कृषि उत्पादक संगठन (krishak utpadak company ) ऐसे किसानों का एक समूह है जो कृषि उत्पादक कार्य में लगा हो या कृषि से जुड़े व्यावसायिक गतिविधि को आगे बढ़ा रहा हो । किसान एफपीओ योजना के तहत ऐसे किसानों को अपना एक समूह बनाना होता है और समूह बनाने के बाद उसे कंपनी एक्ट में रजिस्टर्ड करवाना होता है । Pm Kisan FPO Yojana रजिस्टर्ड हो जाने के बाद आम किसानों को बहुत सारा फायदा मिलता है जो हम आगे चर्चा करेंगे ।

Benefits of PM Kisan FPO | किसान एफपीओ के लाभ

  • Kisan FPO लघु व सीमांत किसानों का एक ऐसा समूह होगा ,जिस से जुड़े किसानों को न सिर्फ अपनी उपज का बाजार मिलेगा, बल्कि उन्हें खाद, बीज, दबाएं और कृषि उपकरण आदि की खरीद करने में भी काफी आसानी होगी ।
  • Pm Kisan FPO बनाने के बाद किसानों को सेवाएं काफी सस्ती मिलेगी और बिचौलियों का काम भी खत्म हो जाएगा ।
  • एफपीओ सिस्टम के अंतर्गत किसानों को उनके उत्पादक के भाव अच्छे मिलते हैं और उन्हें सीधा एक मार्केट मिल जाता है ।
  • Kisan FPO संगठन बनाने के बाद कृषि क्षेत्र में किसानों की बीच एकजुटता आएगी और भविष्य में किसानों का शोषण नहीं किया जा सकेगा ।
  • किसानों के पैदावार या उनके उपज के एवज में उन्हें एक उचित मूल्य प्राप्त होगी ।
  • सरकार के द्वारा आने वाले 5 वर्षों के भीतर 10000 नए कृषि उत्पादक संगठन (Kisan FPO ) खोले जाएंगे ।
  • सरकार का प्लान 2019-20 से लेकर 2023-24 तक 10,000 नए कृषि उत्पादक संगठन (Pm Kisan FPO ) बनाना है ।

नोट :- और भी बहुत सारे फायदे हैं जो किसानों को Pm Kisan FPO Yojana के अंतर्गत दिए जाते हैं ।

Pm Kisan FPO बनाकर सरकार से पैसा लेने के लिए शर्तें ।

अगर आप किसानों की एक समूह है और अपना FPO बनाना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ आवश्यक शर्ते होते हैं जो हम आपको नीचे विस्तार में बताएंगे । FPO बन जाने के बाद सरकार के द्वारा Kisan FPO को करोड़ों रुपए का आवंटन किया जाता है जिससे किसानों को मदद मिलती है । Kisan FPO के अंतर्गत रजिस्टर्ड किसानों को सरकार के द्वारा समय-समय पर वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है साथ ही इनके समस्याओं को भी सर्वोपरि रखा जाता है ।

CSC VLE FARMER PRODUCER ORGANISATION कैसे बनाये ?

यदि आप किसान संगठन बनाना चाहते हैं तो आपको विभिन्न बिंदुओं का ध्यान रखना होगा

  • कोई भी किसान fpo का सदस्य बन सकता है !
  • इस संगठन में 10 lack वर्किंग कैपिटल की आवश्यकता होगी !
  • कम से कम 10 kisan vle या किसान संगठन बना सकते हैं !
  • अधिक से अधिक 1000 किसानों को एक संगठन में जोड़ा जा सकता है !
  • 1000 किसान यह संगठन बनाते हैं तो प्रत्येक किसान ₹1000 देकर 10 lakh का वर्किंग कैपिटल जुटा सकते हैं !
  • kisan fpo yojana registration कराने के लिए आपको कुछ शुल्क देना होगा !
  • जो csc vle किसान नहीं है, वह इस संगठन का हिस्सा नहीं बन पाएंगे !

CSC KISAN FARMER PRODUCER ORGANISATION (FPO) का मालिक कौन होगा ?

kisan fpo एक प्रकार का संगठन है , इसमें प्रत्येक किसान की बराबर की हिस्सेदारी होगी ! चाहे वह वर्किंग कैपिटल इकट्ठा करने में अधिक योगदान दें ! लेकिन यह एक संगठन है इसमें प्रत्येक kisan का बराबर की हिस्सेदारी रहती है ! यदि संगठन को मुनाफा या नुकसान होता है , तो सभी किसान मिलकर इसका लाभ उठाते हैं ! इसलिए csc Farmer Producer Organisation का मालिक प्रत्येक किसान होगा !

किन VLE को किसान FPO का काम मिलेगा ?

csc spv के द्वारा पूरे देश में लगभग प्रत्येक ब्लॉक में 1 csc fpo खोला जाएगा ! जिसके तहत जो vle इच्छुक हो और वह खेती किसानी करते हो ! उन vle को kisan fpo से जोड़ा जाएगा ! इसके लिए आपको [email protected] पर ईमेल करना होगा ! यहां पर केवल सीएससी वेली ही मेल करें !

Attention VLEs! Send your details for “Farmer Producer Organisation” (FPO ) through CSCs

 

Dear VLEs,
Please share your details in the Google form link mentioned below.

Farmer Producer Organisation

 

We will share the formation process for all the interested VLEs. FPO formed by CSC VLE will deal with business activities related to the farm produce and will work for the benefit of the member producers.

Kisan FPO बनाकर पैसा लेने के लिए शर्त ।

1 मैदानी क्षेत्र के किसानों के लिए

अगर किसानों का समूह मैदानी क्षेत्र में काम कर रहा है तो इन्हें कम से कम 300 किसानों का एक समूह बनाना होगा । अगर किसान 10 बोर्ड मेंबर बनाते हैं तो एक बोर्ड मेंबर पर कम से कम 30 किसान के समूह होने चाहिए । Pm Kisan FPO Yojana मैदानी क्षेत्र के लिए पहले यह लिमिट 1000 किसानों का था ।

2. पहाड़ी क्षेत्र के लिए Kisan FPO

पहाड़ी क्षेत्र के लिए Pm Kisan FPO Yojana के साथ कम से कम 100 किसानों का जुड़ा होना जरूरी है । तभी उन्हें कंपनी का फायदा दिया जाएगा

3. नाबार्ड कंसलटेंसी सर्विसेज की रेटिंग

PM Kisan FPO बनाने और सरकार से पैसे लेने के लिए Kisan FPO को नाबार्ड कंसल्टेंसी रेटिंग की भी जरूरत होगी । आपकी कंपनी के काम को देखकर नाबार्ड कंसलटेंसी सर्विसेज आपको रेट करेगा । कंपनी के रेटिंग के आधार पर ही आपको ग्रांट दिया जाएगा ।

4. बिजनेस प्लान को भी देखा जाएगा

आप जो Pm Kisan FPO बनाना चाहते हैं उसके तहत किसानों को फायदा देने के लिए आपके पास क्या बिजनेस प्लान है । आपके बिजनेस प्लान को देखा जाएगा फिर यह सुनिश्चित किया जाएगा कि आपके बिजनेस प्लान से किसानों को कितना लाभ मिल रहा है । आप किसानों के हित में कितने कार्य कर रहे हो और उनके उत्पादों को उचित बाजार उपलब्ध करवा रहे हो या नहीं यह भी देखा जाएगा । किसानों को उचित मार्केट उपलब्ध करवाना भी एक अहम बिंदु है ।

5 . कंपनी का गवर्नेंस कैसा है ?

Pm Kisan FPO Yojana के तहत आप जिस कंपनी को रजिस्टर्ड करवाते हैं उसके गवर्नेंस को भी देखा जाएगा । बोर्ड ऑफ डायरेक्टर कागजी है या वह काम कर रहे हैं । बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के द्वारा किसानों की बाजार में पहुंच आसान बनाने के लिए काम किया जा रहा है या नहीं यह भी सुनिश्चित किया जाएगा ।

नोट :- जब भी आप Kisan FPO बनाने की सोच ,तो आप बोर्ड ऑफ डायरेक्टर का चयन काफी सोच-समझकर करें क्योंकि आने वाले समय में इनकी जिम्मेदारी काफी ज्यादा होगी ।

6. आपकी कंपनी के साथ अन्य कंपनी का जुड़ना ।

अगर कोई कंपनी आपके साथ जुड़ती है तो यह आपकी रेटिंग के लिए काफी अच्छा हो सकता है । किसी कंपनी के द्वारा किसानों की जरूरत से जुड़ी चीजें जैसे कि बीज, खाद और दवाई आदि की कलेक्टिव खरीद की जाती है तो उसकी रेटिंग आपके लिए अच्छी हो सकती हैं । ऐसा करने से किसानों को सस्ता सामान मिलेगा जो एक अच्छी बात है ।

अभी कितनी Pm Kisan FPO कंपनियां हैं ?

Kisan FPO Yojana कोई आज की योजना नहीं है, बशर्ते मोदी सरकार के द्वारा इसका अनाउंसमेंट हाल ही में किया गया है लेकिन पहले से भी कृषि को लाभ देने के लिए कृषि उत्पादक कंपनी चली आ रही है । Pm Kisan FPO का गठन और बढ़ावा देने के लिए अभी लघु कृषक कृषि व्यापार संघ और राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक के द्वारा काम किया जा रहा है ।

इन दोनों संस्थाओं को मिलाकर करीब 5000 Kisan FPO रजिस्टर्ड है ।

हाल ही में राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (NCDC) को भी Kisan FPO संचालित करने की जिम्मेवारी दी गई है ।

Pm Kisan FPO से छोटे और सीमांत किसानों को कैसे मिलेगा लाभ ?

Kisan FPO की शुरुआत ही छोटे और सीमांत किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है । किसान एफपीओ से छोटे सीमांत और भूमिहीन किसानों को काफी मदद मिलेगी । छोटे और सीमांत Kisan FPO के सदस्य संगठन के तहत अपनी गतिविधि का प्रावधान कर सकेंगे ताकि प्रौद्योगिकी ,निवेश ,वित्त और बाजार तक बेहतर पहुंच हो सके और उनकी आजीविका तेजी से बढ़ सकें ।

Kisan FPO Yojana के तहत सबसे ज्यादा लाभ छोटे और सीमांत किसानों को ही मिलेगा जिनके पास लगभग 1.1 हेक्टेयर या उससे कम जोत की जमीन है ।

  • सीमांत और छोटे किसान जिनके पास भूमि या तो कम होती है या नहीं होती है
  • उनको किसानों और खेती के समय भारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है ।
  • छोटे और सीमांत किसानों को निम्नलिखित समस्याएं से हमेशा जुंजना पड़ता है
  • जो Kisan FPO बन जाने के बाद दूर हो जाएंगे ।
  • छोटे और सीमांत किसानों को सामान्य तौर पर प्रौद्योगिकी ,उच्च गुणवत्ता के बीज, उर्वरक
  • ,कीटनाशक और समुचित वित्त की समस्याओं का सामना करना पड़ता है ।

नोट :- Pm Kisan FPO Yojana से किसानों को काफी ज्यादा लाभ मिलेगा ,

आप इससे संबंधित अपने लेखपाल या कृषि कार्यालय में संपर्क कर अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को मिलेगा पीएम केसीसी का लाभ ।

अगर आपने अभी तक प्रधानमंत्री किसान क्रेडिट कार्ड योजना (pm Kisan KCC) का लाभ नहीं लिया है

तो नीचे हम आपको संपूर्ण जानकारी दे रहे हैं जिसको अपना कर आप पीएम किसान क्रेडिट कार्ड योजना (pm kcc) का लाभ बहुत ही आसानी से ले सकते हैं ।

Pm KCC Online Apply, CSC Pm KCC Apply, किसान क्रेडिट कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

 

FAQ PM Kisan FPO Scheme: Centre to provide Rs 18 lakhs

Q 1. किसान फपीओ योजना क्या है ?

किसान एसपीओ यानी कि कृषि उत्पादकता संगठन एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत किसानों का एक समूह बनाया जाता है । यह किसानों का एक समूह होता है जो कृषि उत्पादक कार्यों में लगे होते हैं ।

Q 2. कौन बना सकता है किसान एसपीओ ?

मैदानी क्षेत्र के लिए 300 किसानों के संगठन किसान एसपीओ बना सकते हैं ।

Q 3. किसान एफपीओ से छोटे किसानों को कैसे लाभ मिलेगा ?

किसान एफपीओ के अंतर्गत छोटे किसान समूह का सदस्य बन लाभ कमा पाएंगे । इन किसानों को भूमिहीन होने या कृषि के समय जो समस्या आती है वह सभी समस्या किसान एफपीओ में जुड़ जाने के बाद खत्म हो जाएगी ।

Q 4. क्यों खास है किसान उत्पादक संगठन ?

किसान एफपीओ से छोटे सीमांत और भूमिहीन किसानों को मदद मिलेगा क्योंकि यह किसानों का संगठन होता है ।

Q 5. क्या सभी किसानों को पीएम किसान केसीसी का लाभ मिलेगा ?

जो भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पात्र किसान हैं उनको पीएम किसान केसीसी का लाभ दिया जाएगा । सभी पीएम किसान के लाभार्थी को पीएम केसीसी का लाभ मिलेगा ।

Q 6. पीएम किसान केसीसी कार्ड की लिमिट क्या होती है ?

पीएम किसान केसीसी कार्ड की लिमिट आपके जमीन और आप किस फसल पर निर्भर करता है । फसल के अलग-अलग किस्म के लिए केसीसी लिमिट अलग-अलग होती हैं । केसीसी लिमिट के बारे में अधिक जानकारी आप नीचे दिए गए वीडियो को देख प्राप्त कर सकते हैं ।

Q 7. पीएम किसान एफपीओ का लाभ लेने के लिए किसान के पास कितना जमीन होना चाहिए

पीएम किसान एपीओ का सदस्य भूमिहीन किसान भी बन सकते हैं । किसान एफपीओ का सदस्य बनने के लिए आपके पास जमीन हो या ना हो मायने नहीं रखता ।

Q 8. पीएम किसान एफपीओ योजना की शुरुआत कहां हुई ?

किसान एफपीओ योजना की शुरुआत यूपी के चित्रकूट में की गई ।

Q 9 . FPO का पूरा नाम क्या है ?

FPO – Farmer Producer Organisation किसान उत्पादक संगठन (कृषक उत्पादक कंपनी ) है ।

Q 10. क्या किसान एफपीओ के लिए सभी किसान पात्र हैं ?

जी हां”यह केंद्रीय स्तर पर शुरू की गई है जिस कारण से किसान एफपीओ के तहत सभी किसान पात्र हैं ।

नोट :- आज के इस एक आर्टिकल में अपने Pm Kisan FPO Yojana से संबंधित लगभग सारी जानकारी प्राप्त की । इस आर्टिकल में आपने जाना …

Pm Kisan FPO , किसान एसपीओ से जुड़ने के लिए आवश्यक शर्तें ,

किसान एफपीओ के तहत सरकार से पैसे पाने के लिए शर्तें , किसान एक्टिव योजना की संपूर्ण जानकारी ।

ध्या

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट sarkariyojnaa.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Amar Gupta

FAQ PM Kisan FPO Yojana 2022 Online Apply FPC Registration

✔️ किसान फपीओ योजना क्या है ?

किसान एसपीओ यानी कि कृषि उत्पादकता संगठन एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत किसानों का एक समूह बनाया जाता है । यह किसानों का एक समूह होता है जो कृषि उत्पादक कार्यों में लगे होते हैं ।

✔️ कौन बना सकता है किसान एसपीओ ?

मैदानी क्षेत्र के लिए 300 किसानों के संगठन किसान एसपीओ बना सकते हैं ।

✔️ किसान एफपीओ से छोटे किसानों को कैसे लाभ मिलेगा ?

किसान एफपीओ के अंतर्गत छोटे किसान समूह का सदस्य बन लाभ कमा पाएंगे ।इन किसानों को भूमिहीन होने या कृषि के समय जो समस्या आती है वह सभी समस्या किसान एफपीओ में जुड़ जाने के बाद खत्म हो जाएगी ।

✔️ क्यों खास है किसान उत्पादक संगठन ?

किसान एफपीओ से छोटे सीमांत और भूमिहीन किसानों को मदद मिलेगा क्योंकि यह किसानों का संगठन होता है ।

✔️ क्या सभी किसानों को पीएम किसान केसीसी का लाभ मिलेगा ?

जो भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पात्र किसान हैं उनको पीएम किसान केसीसी का लाभ दिया जाएगा । सभी पीएम किसान के लाभार्थी को पीएम केसीसी का लाभ मिलेगा ।

✔️ पीएम किसान केसीसी कार्ड की लिमिट क्या होती है ?

पीएम किसान केसीसी कार्ड की लिमिट आपके जमीन और आप किस फसल पर निर्भर करता है । फसल के अलग-अलग किस्म के लिए केसीसी लिमिट अलग-अलग होती हैं ।केसीसी लिमिट के बारे में अधिक जानकारी आप नीचे दिए गए वीडियो को देख प्राप्त कर सकते हैं ।
https://www.youtube.com/watch?v=LiF7IsujnyU

✔️ पीएम किसान एफपीओ का लाभ लेने के लिए किसान के पास कितना जमीन होना चाहिए

पीएम किसान एपीओ का सदस्य भूमिहीन किसान भी बन सकते हैं । किसान एफपीओ का सदस्य बनने के लिए आपके पास जमीन हो या ना हो मायने नहीं रखता ।

✔️ पीएम किसान एफपीओ योजना की शुरुआत कहां हुई ?

किसान एफपीओ योजना की शुरुआत यूपी के चित्रकूट में की गई ।

✔️ FPO का पूरा नाम क्या है ?

FPO – Farmer Producer Organisation , किसान उत्पादक संगठन (कृषक उत्पादक कंपनी ) है ।

✔️ क्या किसान एफपीओ के लिए सभी किसान पात्र हैं ?

जी हां”यह केंद्रीय स्तर पर शुरू की गई है , जिस कारण से किसान एफपीओ के तहत सभी किसान पात्र हैं ।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.