लिपि किसे कहते है lipi kise kahate hain (परिभाषा और प्रकार) (2)

|| Lipi Kise Kahate Hain | लिपि किसे कहते हैं हिंदी व्याकरण | लिपि कितने प्रकार के होते हैं | लिपि का इतिहास | ब्रेल लिपि किसे कहते हैं | देवनागरी लिपि की परिभाषा | मानक लिपि किसे कहते हैं ||

Lipi Kise Kahate Hain: क्या आप जानते हैं लिपि किसे कहते हैं, क्या आप लिपि के बारे में विस्तार से जानने वाले है यहां पर हम लिपि किसे कहते हैं, लिपि के कितने भेद होते है आदि के बारे में विस्तार से जानने वाले है।

लिपि किसे कहते है lipi kise kahate hain

लिपि की परिभाषा (Lipi ki Paribhasha): किसी भाषा के लिखने के ढंग या भाषा की लिखावट को लिपि कहा जाता है।

साथियों आपको बता दें किसी भाषा को लिखने के ढंग या उस भाषा की लिखावट को लिपि कहा जाता है

आपको बता दें कि ध्वनि या आवाज को लिखना हो या फिर यूं कह लीजिए पढ़ना हो या उसे देखने योग्य बनाना हो तो उसको लिपि कहते हैं।

आपको बताते चले ध्वनियां अस्थायी होती है परंतु जो लिपि होती है वो स्थाई होती है। हमारे वाणी से ध्वनि का संचार होता है परंतु ध्वनियों को लिपि के जरिये लिखित रुप प्रदान किया जाता है।

क्या आप जानते हैं लिपि के प्रकार कितने हैं?

आपको बता दें लिपि मुख्यतः यह तीन प्रकार की होती हैं, जो निम्न है:

  • चित्र लिपि
  • अल्फाबेटिक लिपि
  • अल्फासिलेबिक लिपि

चलिए सबसे पहले हम चित्र लिपि के बारे में जानते हैं हैं-

 

अल्फाबेटिक लिपि: alphaabetik lipi

आपको बता दें कि अल्फाबेटिक लिपि में स्वर व्यंजन के बाद और अपने पूरे रूप के साथ आता है, अल्फाबेटिक लिपियों के प्रकार निम्न हैं:

  • सिरिलिक लिपि: सोवियत संघ की सारी भाषाएं, रूसी
  • अरबी लिपि: अरबी, कश्मीरी, उर्दू, फ़ारसी
  • इब्रानी लिपि: इब्रानी
  • यूनानी लिपि: गणित के चिन्ह और यूनानी भाषा
  • रोमन लिपि: पश्चिम यूरोप की सारी भाषाएं और अंग्रेजी, फ्रेंच, जर्मन

अल्फासिलेबिक लिपि: alphaasilebik lipi

आपको बता दें कि अल्फासिलेबिक लिपि के अनुसार इसकी प्रत्येक इकाई में अगर एक या एक से अधिक व्यंजन होता है तो आपको बता दें उस पर स्वर की मात्रा का चिन्ह लगाया जाता है। अगर इकाई में व्यंजन नही होता है तो स्वर का पूरा चिन्ह लगा दिया जाता है अल्फासिलेबिक लिपियों के प्रकार निम्न हैं:

  • गुरुमुखी लिपि: पंजाबी
  • ब्राह्मी लिपि: पहले के समय मे संस्कृत और पाली
  • गुजराती लिपि: गुजराती
  • देवनागरी लिपि: नेपाली, संस्कृत, मराठी
  • तमिल लिपि: तमिल
  • बंगाली लिपि: बंगला

चित्र लिपि: chitr lipi

आपको बता दें कि चित्र लिपि के जरिये लोग अपने भावों और अपने विचारों को चित्र के माध्यम से प्रस्तुत करते हैं, चित्र लिपि के तीन प्रकार हैं।

  • चीनी लिपि: चीनी
  • प्राचीन मिस्त्री लिपी: प्राचीन मिस्त्री
  • कांजी लिपि: जापानी

ब्रेल लिपि किसे कहते हैं?: brel lipi kise kahate hain?

आपको बता दें कि ब्रेल लिपि (Braille Lipi): ब्रेल लिपि के इतिहास की बात करें तो इसके जनक लुइस ब्रेल थे। आपको बता दें इनका जन्म 4 जनवरी 1809 ई को फ्रांस में हुआ था। इनके एक्सीडेंट होने की वजह से इनकी आंखों की रोशनी चली गयी और  हैरानी की बात ये है कि  उस समय उनकी उम्र महज 8 वर्ष ही थी, जिसके पश्चात उन्होंने एक ऐसी लिपि का अविष्कार किया जो आज ब्रेल लिपि के नाम से दुनियाभर में प्रचलित है।

आपको बता दें ब्रेल लिपि एक ऐसी लिपि है जो नेत्रहीन लोगों के पड़ने और लिखने के लिए है, जो 6 डॉट्स और उभरे हुए बिंदु पर आधारित है। इसमें 64 अक्षर होते हैं और प्रत्येक आयताकार सेल में 6 उभरे हुए बिंदु 2 पंक्तियों में दिए गए होते हैं। ब्रेल लिपि (Braille Lipi) के एक डॉट्स की ऊंचाई लगभग 0.02 इंच की होती है।

 

आपको बता दें आज के समय मे कुछ ब्रेल लिपि (Braille Lipi) में कुछ चेंजमेंट हो गए हैं। इस लिपि को 6 डॉट्स की बजाय 8 डॉट्स में विकसित कर दिया गया है, जिसकी वजह से नेत्रहीन लोग और ज्यादा शब्द और चिन्ह को पढ़ सकते हैं।आमतौर से  इस लिपि में 256 अक्षर और चिन्ह होता है। विराम चिन्ह, गणित चिन्ह के अलावा हम इसमें संगीत से जुड़े नोटेशन भी देख सकते हैं।

भारत की 22 भाषाएं और उनकी लिपि: bhaarat kee 22 bhaashaen aur unakee lipi

प्यारे साथियों क्या आप जानते है कि भारत की 22 भाषाएं और उनकी लिपि निम्न प्रकार है, इसे संविधान में विशेष दर्जा प्राप्त है।

  • हिंदी – देवनागिरी
  • सिंधी – देवनागिरी/फ़ारसी
  • मैथिली – देवनागिरी/मैथिली
  • वोडों – देवनागिरी
  • मणिपुरी – मणिपुरी
  • डोंगरी – देवनागिरी
  • संथाली – देवनागिरी
  • नेपाली – देवनागिरी
  • संस्कृत – देवनागिरी
  • कोकड़ी – देवनागिरी
  • कन्नड़ – कन्नड़/ब्राह्मी
  • मलयालम – ब्राह्मी
  • तेलुगु – ब्राह्मी
  • तमिल – ब्राह्मी
  • उर्दू – फ़ारसी
  • असमिया – असमिया
  • बांग्ला – बांग्ला
  • उड़िया – उड़िया
  • मराठी – देवनागिरी
  • गुजराती – गुजराती
  • कश्मीरी – फ़ारसी
  • पंजाबी – गुरुमुखी

ये भी पड़ों 

पद किसे कहते है?
व्याकरण किसे कहते है? परिभाषा और इसके प्रकार
वर्ण किसे कहते है? हिंदी व्याकरण
भाषा किसे कहते हैं

तल रेखा lipi kise kahate hain

मुझे आशा है कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद में आपको समझ आ चुका होगा कि लिपि किसे कहते हैं (lipi kise kahate hain) और इसके कितने प्रकार हैं किन किन भाषाओं की क्या क्या लिख दिया आपके एग्जाम में भी आ सकते हैं बस यही हमारा आपके लिए पोस्ट लिखने का अगर इसमें कुछ बताने से रह गया है तो आप हमे कमेंट्स बॉक्स में बता सकते हैं हम उसको इस पोस्ट में जोड़ने की कोशिश करेंगे।

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.